GMCH STORIES

संसद में गतिरोध को खत्म करने के लिए कोईं बीच का रास्ता नहीं - जयराम रमेश

( Read 2215 Times)

19 Mar 23
Share |
Print This Page

संसद में गतिरोध को खत्म करने के लिए कोईं बीच का रास्ता नहीं - जयराम रमेश

नईं दिल्ली  । कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने शनिवार को कहा कि संसद में गतिरोध को खत्म करने के लिए कोईं बीच का रास्ता नहीं है, क्योंकि अडाणी समूह से जुड़े मामले में संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) के गठन की विपक्ष की मांग पर कोईं समझौता नहीं हो सकता और राहुल गांधी के माफी मांगने का सवाल ही नहीं उठता। उन्होंने पीटीआईं-भाषा को दिए साक्षात्कार में यह भी कहा कि सरकार विपक्ष के 16 दलों के जेपीसी की मांग करने से बौखला गईं है, इसलिए वह 3डी अभियान: डिस्टॉर्ट (विकृत करना), डिफेम (बदनाम करना) और डाइवर्ट (ध्यान भटकाना) में लगी है।
रमेश ने आरोप लगाया कि विपक्ष की जेपीसी के गठन की मांग से ध्यान भटकाने के लिये भारतीय जनता पार्टी राहुल गांधी से माफी की मांग कर रही है, जबकि राहुल गांधी ने कुछ ऐसा नहीं कहा है, जैसा कि सत्तापक्ष बता रहा है।
उनके इस बयान से एक दिन पहले, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शुावार को कहा था कि अगर विपक्ष वार्ता के लिए आगे आए, तो संसद में जारी मौजूदा गतिरोध को दूर किया जा सकता है।उन्होंने कहा था कि अगर विपक्ष दो कदम आगे बढ़ाए तो सरकार उससे भी दो कदम आगे बढ़ेगी। यह पूछे जाने पर कि संसद में गतिरोध खत्म करने के लिए कोईं बीच का रास्ता निकल सकता है, तो कांग्रेस महासचिव ने कहा, मैं कोईं बीच का रास्ता नहीं देखता, क्योंकि जेपीसी की हमारी मांग को लेकर कोईं समझौता नहीं हो सकता तथा (राहुल गांधी की) माफी का भी सवाल नहीं उठता।
 


Source :
This Article/News is also avaliable in following categories : National News
Your Comments ! Share Your Openion

You May Like