पारस हेल्थ उदयपुर ने विश्व हाइपरटेंशन दिवस पर दिया तनाव मुक्त रहने का संदेश

( 4284 बार पढ़ी गयी)
Published on : 17 May, 23 11:05

पारस हेल्थ उदयपुर ने विश्व हाइपरटेंशन दिवस पर दिया तनाव मुक्त रहने का संदेश

Udaipur. हाइपरटेंशन यानी हाई ब्लड प्रेशर (उच्च रक्तचाप) बहुत ही खतरनाक बीमारी है। जिसमें शरीर की धमनियों में रक्त का दबाव काफी बढ़ जाता है और इस कारण हृदय पर भी बहुत असर पड़ता है। हाइपरटेंशन दिवस के अवसर पर पारस हेल्थ, उदयपुर ने लोगों को तनाव मुक्त रहने का संदेश दिया। विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के अनुसार हाइपरटेंशन केवल वृद्ध व्यक्तियों में ही नहीं होता है बल्कि 20 से 44 वर्ष के लगभग 4 में से 1 व्यक्ति को हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत होती है। पिछले 30 वर्षों के दौरान हाइपरटेंशन के मामलों में करीब 97 फीसदी का इजाफा हुआ है।
डॉ. हितेश यादव, सीनियर कंसल्टेंट कार्डियोलॉजी, पारस हेल्थ का कहना है कि हाइपरटेंशन का असर हमारे हृदय पर बहुत ही घातक रूप में होता है और ऐसे में हमें बहुत सावधानियां बरतने की जरूरत है। इसके लक्षणों को पहचानना भी बहुत आवश्यक है जैसे- सिर दर्द, सिर चकराना, थकान और सुस्ती होना, दिल की धड़कन बढ़ जाना, सीने में दर्द , सांसें तेज चलना या सांस लेने में तकलीफ होना, आंखों से धुंधला दिखना हाइपरटेंशन के लक्षण हैं। जो मानसिक तनाव, नींद की कमी और अनुचित खान-पान के कारण होते हैं। हाइपरटेंशन से बचाव के लिए अच्छा खानपान, धूम्रपान और शराब के सेवन से बचें, नियमित व्यायाम और स्वस्थ जीवनशैली अपनाएं। इसके साथ ही यदि किसी भी प्रकार के हाइपरटेंशन से जुड़े गंभीर लक्षण दिखाई दें तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।
 


साभार :


© CopyRight Pressnote.in | A Avid Web Solutions Venture.