सादुलशहर की सरकारी आईटीआई खुलीः विधायक श्री जांगिड़

( 4009 बार पढ़ी गयी)
Published on : 22 May, 23 15:05

कुशल बनो, योग्य बनो नीति के तहत सादुलशहर की सरकारी आईटीआई खुलीः विधायक श्री जांगिड़

 सादुलशहर की सरकारी आईटीआई खुलीः विधायक श्री जांगिड़

कुशल बनो, योग्य बनो नीति के तहत सादुलशहर की सरकारी आईटीआई खुलीः विधायक श्री जांगिड़
साढ़े दस करोड़ रुपये की लागत से 7 बीघा जमीन पर अत्याधुनिक तकनीक से बनेगा भवन
गद्दरखेड़ा में सभी सुविधाओं के साथ बनने वाले भवन निर्माण का शिलान्यास विधायक जांगिड़ ने किया
राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आईटीआई) सादुलशहर (गद्दरखेड़ा) के भवन का शिलान्यास सोमवार को सादुलशहर विधायक श्री जगदीश चन्द्र जागिड़ ने पूर्ण विधि-विधान से किया। सादुलशहर विधानसभा क्षेत्र में विधायक श्री जगदीश चन्द्र जागिड़ की अनुशंसा पर मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत द्वारा बजट घोषणा 2020-21 में आईटीआई सादुलशहर स्वीकृत किया गया था।
 विधायक श्री जांगिड़ ने बताया कि सादुलशहर व आसपास के गांवों के बच्चों के लिए तकनीकी शिक्षा और कुशलता के लिए सरकारी आई.टी.आई. गांव गद्दरखेडा में बन रही है। यह क्षेत्र शिक्षा का हब बन गया है। सादुलशहर विधानसभा क्षेत्र के ग्रामीण क्षेत्रों में आईटीआई व कॉलेज खुलना यानी गांव का शहर की तर्ज पर विकास माना जाने लगा। उन्होंने गद्दरखेड़ा ग्राम पंचायत में इंग्लिश मीडियम स्कूल खुलवाने व अन्य मांगों को पूरा करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि पात्र लोगों को पट्टा वितरण में कोई लापरवाही सामने आई तो दोषी लोगों पर कार्रवाई की जायेगी। विधायक श्री जांगिड़ ने कहा कि ग्राम पंचायत मुख्यालय पर 6 व 7 जून को लगने वाले कैम्प का हर व्यक्ति लाभ लेंवे क्योंकि इन कैम्पों में मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत की ओर से 10 तरह की राहत देने का गारंटी कार्ड दिया जा रहा है।
 निजी सचिव प्रतीक शर्मा ने बताया कि विधायक श्री जांगिड़ ने आईटीआई बिल्डिंग के लिए जिला कलक्टर श्रीगंगानगर के माध्यम से ग्राम पंचायत गद्दरखेड़ा से सात बीघा सरकारी भूमि भी निःशुल्क आवंटित करवाकर राज्य सरकार से भवन निर्माण हेतु राशि साढ़े दस करोड़ रुपये की राशि भी स्वीकृत करवाई जिससे आईटीआई बिल्डिंग का कार्य शुरु हो गया है।
 कार्यक्रम में राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान श्रीगंगानगर के आचार्य इंजीनियर सुशील कुमार जान्दू ने बताया कि राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान सादुलशहर में स्टाफ के सभी 23 पद स्वीकृत के साथ-साथ 8 व्यवसायों के 16 यूनिट स्वीकृत किये जा चुके हैं। इनमें लगभग 360 प्रशिक्षार्थी प्रशिक्षण प्राप्त करेगें। वर्तमान में मैकेनिक डीजल व्यवसाय का प्रशिक्षण राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान, शिविर श्रीगंगानगर में संचालित किया जा रहा है जिसमें 24 प्रशिक्षणार्थी प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे है। राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान में प्रशिक्षण प्राप्त कर क्षेत्र के प्रशिक्षणार्थी मैट्रो, रेलवे, जोधपुर विधुत वितरण निगम, राजस्थान पथ परिवहन निगम, जलदाय विभाग के अतिरिक्त राजकीय प्रतिष्ठानों, प्राईवेट कम्पनीयों एवं विदेशों आदि में रोजगार प्राप्त कर सकेगें।
 इस मौके पर तहसीलदार पूनम कंवर, प्रधान निशान सिंह संधू, अनंत राम कारगवाल, गिरधारी लाल सरदारशहरिया, सुखविंद्र सिंह लालगढिया, हरविंद्र सिंह ढिल्लों, उप सरपंच मनदीप सिंह, जसविंद्र सिंह बोहड़, मनीराम लीलड़, नरेंद्र सिंह बराड़, लखविंद्र सिंह बराड़, जसविंद्र सिंह गिल, मन्द्र सिंह बराड़, रणजीत राम लीलड़, नायब सिंह, सेवक सिंह गिल, रतीराम लीलड़, कौर सिंह गिल, ओमप्रकाश नायक, जगदेव सिंह मिस्त्री, सुखमन्द्र सिंह बावरी, जगसीर सिंह मिस्त्री, अर्जुन सिंह बावरी, कर्मचंद प्रजापत, परमानंद लीलड़, अक्षय कुमार शर्मा, मदन गद्दरखेड़ा, सरदूल सिंह गिल, बलविंद्र सिंह भुल्लर, जलावर सिंह बराड़, लखविंद्र सिंह मिस्त्री, दर्शन सिंह बावरी, शिवराज सिंह मेम्बर, मुखा सिंह बावरी, संदीप गिल, औंकार सिंह बराड़, जगदीश मेम्बर, परमजीत सिंह, गोरा सिंह, फतेह सिंह भुल्लर, पृथ्वीराम मेघवाल, अमरजीत बाजीगर एवं सादुलशहर विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न गांवों के सरपंच, जिला परिषद व पंचायत समिति सदस्य, वार्ड पार्षदगण और जनप्रतिनिधीगण सहित गणमान्य गांववासी उपस्थित थे। (फोटो सहित


साभार :


© CopyRight Pressnote.in | A Avid Web Solutions Venture.